Bharat Ke Mahan Amar Sahid Krantikari ke Naam in Hindi - भारत के महान अमर शहीद क्रान्तिकारी के नाम सम्बंधित घटनाये के विषय में जानकारी

आज हम अपने भारत के महान अमर शहीद के बारे में आपको बता रहे हैं। जैसा की आप सभी जानते हैं कि यह आज़ादी हमें उन शहीदों की वजह से मिली है जिन्होंने स्वतंत्रता के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया था।
  1. खुदीराम बोस- सम्बंधित घटनाये- 1908 में सेशन जज किंग्जफोर्ड की गाडी पर बम फेंकने के कारण बेणी रेलवे स्टेशन पर गिरफ़्तार हुए। सजा- 11 अगस्त, 1908 ई. को उन्हें फांसी दे दी गयी।
  2. अशफाकउल्ला खां- सम्बंधित घटनाये- 19 अगस्त, 1925 ई. को काकोरी डाकगाड़ी केस के अभियोग में बंदी बनाया गया था। सजा- 18 दिसंबर, 1927 ई. को फांसी दे दी गयी।
  3. ऊधम सिंह- सम्बंधित घटनाये- 13 मार्च, 1940 ई. को सर माइकल-ओ-डायर को कैक्स्टन हाल, लन्दन में गोली मारने के कारण गिरफ्तार हुए। सजा- 31 जुलाई, 1940 ई. को फांसी दे दी गयी।
  4. भगत सिंह- सम्बंधित घटनाये- सांडर्स की हत्या के केस तथा 8 अप्रैल, 1929 ई. को केंद्रीय विधान सभा में बम फेंकने के सिलसिले में गिरफ्तार हुए। सजा- सांडर्स की हत्या के केस में मौत की सजा हुई तथा 23 मार्च, 1931 ई. को फांसी पर चढ़कर शहीद हो गए।
  5. सुखदेव- सम्बंधित घटनाये- सांडर्स की हत्या के केस में मौत की सजा हुई और 15 अप्रैल, 1929 ई. को गिरफ्तार हुए। सजा- 23 मार्च, 1931 ई. को भगत सिंह के साथ इन्हे भी फांसी दे दी गयी थी।
  6. बटुकेशवर दत्तसम्बंधित घटनाये- सम्बंधित घटनाये- भगत सिंह के साथ केंद्रीय असेम्ब्ली में बम फेंकने के आरोप में गिरफ्तार हुए।सजा- इन्हे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गयी थी।
  7. चंद्रशेखर आज़ाद- सम्बंधित घटनाये- काकोरी डाकगाड़ी केस के मुख्य अभियुक्त तथा अंग्रेजी सरकार ने इन्हें जिन्दा या मुर्दा पकड़ने के लिए तीस हजार रूपए पुरस्कार की घोषणा भी की थी। सजा- 23 फरवरी, 1931 ई. को एल्फ्रेड पार्क (इलाहबाद) में गोली लगने से इनकी मृत्यु हुई थी।
  8. मास्टर अमीचन्द- सम्बंधित घटनाये- दिल्ली षणयंत्र के प्रमुख क्रन्तिकारी अमीचन्द्र फ़रवरी, 1914 ई. में वायसराय लॉर्ड हार्डिंग की हत्या करने के आरोप में बंदी बनाए गए। सजा- 08 मई, 1915 ई. को फांसी दे दी गयी।
  9. अवध बिहारी- सम्बंधित घटनाये- दिल्ली षणयंत्र केस एवं लाहौर बम काण्ड के आरोप में फ़रवरी 1914 में इन्हे बंदी बनाया गया।सजा- 8 मई, 1915 ई. को फांसी दे दी गयी।
  10. दामोदर चापेकर - सम्बंधित घटनाये- 22 जून, 1897 ई. को प्लेग कमिश्नर रैंड और लेफ्टिनेंट एयसर्ट की हत्या के सिलसिले में अपने भाइयों के साथ गिरफ्तार हुए। सजा- 18 अप्रैल, 1898 ई.  को फांसी के तख्ते पर चढ़ कर शहीद हो गए। इनके भाई बालकृष्ण चापेकर को 12 मई, 1899 ई. तथा वासुदेव चापेकर को 8 मई, 1899 ई.  को फांसी पर लटका दिया गया 
  11. मदन लाल धींगरा- सम्बंधित घटनाये- 01 जुलाई, 1909 ई. में कर्नल विलियम कर्जन वाइली (इंडिया ऑफिस में राजनितिक सहायक) की हत्या करने के कारण इन्हे गिरफ्तार किया गया था।सजा- 16 अगस्त, 1909 ई. को फाँसी पर लटका दिया गया था।
  12. राजगुरु- सम्बंधित घटनाये- 17 दिसंबर, 1928 को सॉन्डर्स की हत्या में भाग लेने के कारण 30 दिसंबर, 1929 ई. को पूना में एक मोटर गैराज में गिरफ्तार किया गया। सजा- 23 मार्च, 1931 को केंद्रीय जेल लाहौर में भगत सिंह और सुखदेव के साथ फाँसी दे दी गयी।
  13. वासुदेव बलवंत फड़के- सम्बंधित घटनाये- एक सशस्त्र सेना बनाकर ब्रिटिश सरकार का विरोध करने के कारण 21 जुलाई, 1879 को गिरफ्तार हुए। सजा- कालापानी की सजा के सिलसिले में अदन में आमरण अनशन करके 17 फ़रवरी, 1883 ई. को प्राण त्याग दिया था।
  14. करतार सिंह सराबा- सम्बंधित घटनाये- ग़दर पार्टी के सक्रीय कार्यकर्ता तथा लाहौर षणयंत्र के नेता की हैसियत से गिरफ्तार किये गए। सजा- 16 नवम्बर, 1915 ई. को फाँसी के तख्ते पर शहीद हुए थे।
  15. राजेंद्र लाहिड़ी- सम्बंधित घटनाये- दक्षिणेश्वर बम काण्ड तथा काकोरी डाक गाड़ी डकैती काण्ड के सिलसिले में गिरफ्तार हुए।सजा- 17 दिसम्बर, 1927 ई. को गोण्डा की जेल में इन्हे फाँसी दे दी गयी।
  16. अनन्त कान्हरे- सम्बंधित घटनाये- नासिक के जैक्सन हत्याकाण्ड के प्रमुखअभियुक्त होने के कारन बन्दी बनाए गए। सजा- 19 अप्रैल, 1910 ई. को इन्हे फाँसी दे दी गयी।
  17. सुभाषचंद्र बोस- सम्बंधित घटनाये- 21 अक्टूबर, 1943 ई. को सिंगापुर में आज़ाद भारत के अस्थायी सरकार की स्थापना की घोषणा की तथा जापानी सेना की सहायता से अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह पर अधिकार करते हुए 1944 ई. में भारतीय सिमा के इम्फाल क्षेत्र में प्रवेश किया। सजा- 18 अगस्त, 1945 ई. को वायुयान दुर्घटना में इनकी मृत्यु हो गयी। परन्तु इस दुर्घटना को अभी तक प्रमाणित नहीं माना गया है।
  18. विष्णु गणेश पिंगल- सम्बंधित घटनाये- 23 मार्च, 1915 ई. को विस्फोटक बमों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। सजा- 17 नवम्बर, 1915 ई. फाँसी दे दी गयी।
  19. बृजकिशोर चक्रवर्ती- सम्बंधित घटनाये- मिदनापुर के जिला मजिस्ट्रेट जज पर गोली चलाने के आरोप में 2 सितम्बर, 1933 ई. को गिरफ्तार हुए। सजा- 26 अक्टूबर, 1934 ई. को इन्हे फाँसी पर इन्हे लटका दिया गया।
  20. कुसाल कोंवर- सम्बंधित घटनाये- 9 अक्टूबर, 1942 ई. को ब्रिटिश सैनिक गाड़ी को पटरी से उतरने के संदेह में गिरफ्तार हुए। सजा- 16 जून, 1943 ई. को इन्हे फाँसी दे दी गयी।
  21. असित भट्टाचार्य- सम्बंधित घटनाये- 13 मार्च, 1933 ई. को हबीबगंज में हुई डाक डकैती तथा हत्या के अन्य मामलों के सिलसिले में गिरफ़्तार हुए। सजा- 2 जुलाई, 1934 ई. को इन्हे सिलहट जेल में फाँसी दे दी गयी।
  22. जगन्नाथ शिंदे- सम्बंधित घटनाये- शोलापुर थाने पर हुए हमले का अभियोग लगाकर इन्हे बन्दी बनाया गया। सजा- 12 जनवरी, 1931 ई. में इन्हे फाँसी दे दी गयी।
  23. हरकिशन- सम्बंधित घटनाये- 23 दिसम्बर, 1930 ई. को पंजाब के गवर्नर पर गोली चलाने के आरोप में गिरफ़्तार हुए। सजा- 9 जून, 1931 ई. को इन्हे फाँसी दे दी गयी।
  24. सूर्यसेन (मास्टर दा)- सम्बंधित घटनाये- 18 अप्रैल, 1930 ई. में चटगाँव स्थित ब्रिटिश शस्त्रागार पर आक्रमण में भाग लेने के कारण गिरफ़्तार हुए। सजा- 12 जनवरी, 1934 ई. को इन्हे फाँसी पर लटका दिया गया।
  25. लाला लाजपत राय- सम्बंधित घटनाये- 17 नवम्बर, 1928 ई. के साइमन कमीशन का विरोध करने पर पुलिस के द्वारा पाश्विक लाठी प्रहार के शिकार हुए। सजा- लाठी प्रहार के एक महीने बाद उनका देहांत हो गया था।

Post a Comment

2 Comments

  1. i like it. GK ki aur jankari daliye. mujhe achha laga isko padh kr.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanku, Hm Puri Kosis Karenge apko jayeda se jayeda jankari mil sake.

      Delete